Congress Secretary Priyanka Gandhi

‘प्रियंका गांधी के राज्याभिषेक से यह साबित हो गया कि कांग्रेस में परिवार ही पार्टी है’

कांग्रेस पार्टी में प्रियंका गांधी वाड्रा की एंट्री हो गई है. कांग्रेस ने प्रियंका को पूर्वी उत्तर प्रदेश का महासचिव बनाया है. इसके साथ ही कांग्रेस के इस फैसले पर सवाल उठने लगे हैं. भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस पर परिवारवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया.

भाजपा की तरफ से राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने प्रेस कांफ्रेंस करते हुए कहा कि प्रियंका गांधी की नियुक्ति से साफ हो गया कि कांग्रेस में परिवार ही पार्टी है. प्रियंका गांधी पर हमला करते हुए पात्रा ने कहा कि कांग्रेस ने इसके साथ ही सिद्ध कर दिया कि राहुल गांधी फेल हैं.

पात्रा ने कहा कि महागठबंधन से नकारे जाने के बाद कांग्रेस पार्टी परिवार से ही बैसाखी ढूंढ रही है. न्यू इंडिया पूछ रहा है जवाहर लाल नेहरू से लेकर अब प्रियंका गांधी तक परिवार से नेता आ रहे हैं, लेकिन आगे कौन होगा.

बता दें कि कांग्रेस ने प्रियंका गांधी वाड्रा को पार्टी में बड़ी भूमिका दी है. प्रियंका गांधी को कांग्रेस का महासचिव बनाया गया है. प्रियंका गांधी को पूर्वी यूपी की कमान सौंपी गई है. इसके अलावा ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी पार्टी का महासचिव बनाया गया है.

इसके साथ ही यह तय हो गया है कि कांग्रेस पार्टी साल 2019 में होने वाले आम चुनाव में प्रियंका गांधी का जमकर इस्तेमाल करेगी. बता दें कि कांग्रेस के आम कार्यकर्ताओं में प्रियंका की बड़ी लोकप्रियता थी. काफी समय से उनको पार्टी में लाने की मांग उठती रही है. लेकिन अभी तक उनको पार्टी में शामिल नहीं किया गया था.

ये भी पड़ें:  अगर आप भी करते हैं फोन पर लगातार बात, तो हो सकती है दिमाग की ये गंभीर बीमारी

गौरतलब है कि यूपी में सपा-बसपा और रालोद का गठबंधन होने के बाद कांग्रेस अकेले पड़ गई थी. कांग्रेसियों का मनोबल बढ़ाने के लिए राहुल गांधी बड़ा दांव चलना चाहते थे. प्रियंका गांधी के एंट्री से कांग्रेस पार्टी अब अपनी खोई जमीन एक बार फिर हासिल करने की कोशिश में होगी.

सभी जानते हैं कि प्रियंका गांधी चुनाव के दौरान कांग्रेस की जीत के लिए अहम रोल अदा करती हैं. प्रियंका पहले भी पर्दे के पीछे रहकर भी एक नेता की तरह काम करती रही हैं और महत्वपूर्ण रणनीतियां बनाती रही हैं. पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद बहुत पहले ही प्रियंका गांधी को गेम चेंजर बता चुके हैं.

खुर्शीद ने कहा था कि 2019 के चुनाव में प्रियंका एक बड़ा रोल निभाएंगी. कांग्रेस पार्टी ने तब स्वीकार किया था कि प्रियंका पार्टी के भीतर महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही हैं. सोनिया और राहुल के संसदीय क्षेत्र रायबरेली और अमेठी में प्रियंका गांधी हमेशा से चुनाव प्रचार करती रही हैं.

लगातार जुड़े रहने के लिए Follow करे

अपने विचार कमेंट बॉक्स में शेयर करें